मध्य प्रदेश

जमीनी विवाद में सास की हत्या, बहू से दुष्कर्म का प्रयास, दुधमुंही बच्ची को पटका, बीना की घटना

बीना. जमीन विवाद पर सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात करीब 12 बजे सात लोगों ने घर में सो रही एक महिला की कुल्हाड़ी से हमला कर हत्या कर दी. पास में सो रही महिला की बहू के चिल्लाने पर आरोपितों ने उसके साथ भी मारपीट की. आरोपित महिला को घसीटते हुए खेत में ले गए और दुष्कर्म करने की कोशिश की. महिला के विरोध करने पर आरोपितों ने दो माह की मासूम को मारने की धमकी दी. इसके बाद भी महिला ने विरोध किया तो आरोपित मासूम को जमीन पर पटककर भाग गए. घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू कर दी है.

यह घटना बीना थानांतर्गत आने वाले हड़कारी गांव की है. मृतक महिला गांव के परिवार का गांव के ही अरविंद अहिरवार, राहुल अहिरवार, सुकई अहिरवार के साथ जमीन को लेकर रंजिश चल रही है. सोमवार रात करीब 12 बजे तीनों आरोपित गांव के प्रमेंद्र ठाकुर, राकेश ठाकुर और अनिल कुशवाहा के साथ खेत पर बने महिला के मकान पर पहुंचे. आरोपितों ने घर मे सो रही 55 साल की महिला पर कुल्हाड़ी से हमला कर हत्या कर दी. सास के चिल्लाने की आवाज सुनकर उनकी बहू जाग गई. बहू ने आरोपितों का विरोध किया तो वह उसे घर से घसीटते हुए खेत में ले गए. इस दौरान आरोपितों ने महिला के साथ गलत काम करने की कोशिश करने लगा. महिला ने इसका विरोध किया तो आरोपितों ने उसे धमकी दी कि यदि तुमने विरोध किया तो हम तुम्हारी दो माह की बच्ची को जान से मार देंगे. महिला के चिल्लाने की आवाज सुनकर गांव के लोग मौके पर पहुंच गए. इसके चलते आरोपित बच्ची को जमीन पर पटककर मौके से भाग गए. बाद में गांव वालों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को अस्पताल पहुंचाया. लेकिन डाक्टर ने 55 वर्षीय महिला को मृत घोषित कर दिया, जबकि गंभीर रूप से घायल उनकी बहू को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है.

परिजनों ने जताया आक्रोश

घटना के मंगलवार सुबह अस्पताल परिसर में बड़ी संख्या में महिला के परिवार वालों के साथ समाज के लोगों ने आक्रोश जताते हुए विरोध प्रदर्शन किया. परिवार वालों ने आरोप लगाया कि आरोपितों ने एक महिला की हत्या कर बहू की इज्जत तार-तार करने की कोशिश की. इसके अलावा दो माह की मासूम की हत्या करने की कोशिश की. जबकि पुलिस ने सिर्फ पांच के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया. पूरा विवाद कराने वाले गांव के दो दबंगों के नाम एफआइआर में शामिल नहीं है. इसके अलावा आरोपितों पर महिला के साथ दुष्कर्म करने का केस दर्ज नहीं किया. समाज के लोगों ने कहा कि यदि नियमानुसार कार्रवाई नहीं की गई तो चौराहे पर शव रखकर चक्काजाम किया जाएगा.
Source

यह समाचार पढिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Live TV