मध्य प्रदेश

हर्रहवा कोटेदार को हटाने की ग्रामीणों ने कलेक्टर से की मांग

ग्रामीणों का आरोप-हितग्राहियों का काटा जाता है एक किलो राशन, अंगूठा लगाने के दो तीन महीने बीत जाने के बाद भी नहीं देता राशन

सिंगरौली। ग्राम पंचायत हर्रहवां के कोटेदार लक्ष्मण प्रसाद बैस को हटाए जाने की मांग को लेकर ग्रामीणों ने कलेक्टर व तहसीलदार को आवेदन दिया है। ग्राम पंचायत हर्रहवां के ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि कोटेदार लक्ष्मण प्रसाद बैस पिता बुधमान बैस के द्वारा दो-तीन माह के राशन लेने के लिए अंगूठा लगवाने के बाद भी नहीं दिया राशन और हर कार्ड धारी के गल्ले से 1 किलो राशन काटा लेता है। उसके बाद भी जब कोटेदार का पेट नहीं भरता तो शक्कर, नमक का भी गवन कर दिया जाता है।

वही ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए बताया कि कोटेदार द्वारा भद्दी-भद्दी गालियां दिया जाता है और कहा जाता है कि पंच का पावर नहीं चलेगा सिर्फ मेरा पावर चलेगा जाओ जिसको जहां जाना है जाओ, चाहे जाकर ष्टरू हेल्पलाइन 181 लगाओ या कलेक्टर महोदय से शिकायत करो मेरा कुछ नहीं होगा।
अब ऐसे में कोटेदार पर कारवाई ना होना जिला प्रशासन के ऊपर एक सवालिया निशान खड़ा कर देगा जिसकी मनोबल इतनी ज्यादा बड़ी हुई हो। एक ग्रामीण ने नाम ना छापने के शर्तें पर बताया कि गरीबों का गल्ला गमन करने के आरोप में लक्ष्मण प्रसाद बैस को एक बार जेल की भी हवा कुछ दिनों के लिए खानी पड़ गई थी। फिर भी कोटेदार नहीं सुधरा और अपनी मानी आए दिन करता रहता है।अब ऐसे में ऐसे कोटेदार को कहीं का भी सेल्समैन बनाना उचित नहीं लगता जिसका किसी से भी भय ना हो चाहे वह जिला कलेक्टर हों या फिर चाहे एसडीएम, तहसीलदार हो ऐसे कोटेदार को तत्काल प्रभाव से हटा देना चाहिए जो अपनी मनमानी करता रहता है।

यह समाचार पढिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Live TV