मध्य प्रदेश

बघेली बिरहा गीत के साथ संपन्न हुआ राष्ट्रीय लोक संगीत महोत्सव

16 प्रदेशों के लोक कलाकारों ने दी बघेली लोकगीतों की प्रस्तुति

ग्राम अकौरी में महोत्सव का भव्य हुआ समापन

सीधी.
देश में विलुप्त हो रही लोक कला के संरक्षण, संवर्धन के उद्देश्य को लेकर तीन दिवसीय राष्ट्रीय लोक संगीत महोत्सव का आयोजन किया गया था। जिसका समापन मंगलवार को जनपद पंचायत रामपुर नैकिन के ग्राम अकौरी में बघेली लोक गीत बिरहा के साथ समापन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत महोत्सव में शामिल 22 प्रदेशों के कलाकारों द्वारा एक साथ बघेली लोक गीत धन-धन आपन बघेली त धन्य है आपन बोली, रामा धन्य है आपन सीधी, जहां आज हम सब के साथ गीत के साथ हुआ। बघेली बोली में पश्चिम बंगाल, पंजाब, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, बिहार, उत्तराखंड, झारखंड, मध्य प्रदेश के कलाकारों द्वारा गीत प्रस्तुत किए जाने पर दर्शकों ने काफी पसंद किया। बिहार की सबसे छोटी लोक गायिका अनन्या पाण्डेय के द्वारा एक राधा एक श्याम दिवानी की मनमोहक प्रस्तुति की। तत्पश्चात देश की सबसे छोटी लोक गायिका मान्या पाण्डेय के द्वारा बघेली बिरहा की प्रस्तुति से सभी दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। गया बिहार से आई लोक गायिका अंजली कुमारी ने लिहे अइहे हो सेंदुरा बंगाल से भोजपुरी पारंपरिक लोकगीत एवं बनारस उत्तर प्रदेश की अंशिका ङ्क्षसह ने गोदवा ल गोदनवा भोजपुरी कजरी को प्रस्तुत किया। झारखंड से आई प्रगति ङ्क्षसह ने ननदो जिया घबराला हो पूर्वी लोक गीत प्रस्तुत की। महाराष्ट्र की लोक गायिका ने वैष्णवी नेम्बुलकर ने झूमर-झूमर मराठी गीत की प्रस्तुति की। झारखंड के सुभाष राय ने कान्हा भुलाइ गइला हमके भोजपुरी भक्ति विरह गीत की प्रस्तुति दी। लखनऊ उत्तर प्रदेश के गायक छोटू राजा ने जुगुल जोड़ी हो जुगुल जोड़ी गीत प्रस्तुत किया। छत्तीसगढ़ की लोक गायिका शालीन त्रिपाठी एवं पश्चिम बंगाल के लोक गायक शिवंजन भट्टाचार्य बाउल लोक गीतों की मनमोहक प्रस्तुति की तो वहीं मध्य प्रदेश के ख्यातिप्राप्त लोक गायक नारेन्द्र बहादुर ङ्क्षसह ने बघेली दादरा, जिले के बाल कलाकार श्रजन मिश्रा ने बघेली लोकगीत की मनमोहक प्रस्तुति दी। कार्यक्रम का समापन लोक गायिका मान्या पाण्डेय, बिहार की बाल कलाकार अनन्या पाण्डेय, झारखंड की प्रगति सिंह, महाराष्ट्र की वैष्णवी नेंबुलकर, उत्तर प्रदेश के अंशिकार सिंह, बिहार की अंजली कुमारी ने बुुंदेली फाग रंग बरसे हैं आज रंग बरसे हैं गोरी के गोरे-गोरे गाल में गीत के साथ राष्ट्रीय लोक संगीत महोत्सव का समापन किया गया।

राष्ट्रीय लोक संगीत महोत्सव के समापन कार्यक्रम के भाजपा पूर्व जिला अध्यक्ष डॉ. राजेश मिश्रा की मुख्य आतिथ्य एवं नगर पालिका सीधी के अध्यक्ष श्रीमती काजल वर्मा नगर परिषद चुरहट की अध्यक्ष श्रीमती मोनिका गुप्ता, जनपद पंचायत रामुपर नैकिन के उपाध्यक्ष ऋषिराज मिश्रा, कृषि स्थाई समिति जनपद पंचायत रामपुर नैकिन की सभापति श्रीमती सीमा पाण्डेय, संचार सकर्म समिति जनपद रामपुर नैकिन के सभापति अरुण शेखर त्रिपाठी, उपाध्यक्ष जिला कांग्रेस कमेटी विनोद वर्मा, जिला कांग्रेस कमेटी के महामंत्री ज्ञानेन्द्र अग्रिहोत्री, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के महामंत्री आशुतोष शुक्ला, समाजसेवी सुनील ङ्क्षसह सीएस, विजय गुप्ता, मध्य प्रदेश श्रमजीवी पत्रकार संघ के जिला अध्यक्ष हरीष मिश्रा, महासचिव हरीष द्विवेदी, संभागीय महासचिव आदित्य ङ्क्षसह, डॉ. बीना मिश्रा की उपस्थिति में आयोजित किया गया। इस अवसर पर समाजसेवी डॉ. अनूप मिश्रा के द्वारा देश भर से आए 32 कलाकारों को 21-21 सौ एवं शाल स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। ्र

सीधी की पहचान हैं मान्या पाण्डेय: डॉ. राजेश

राष्ट्रीय लोक संगीत के समापन अवसर पर मुख्य अतिथि डॉ. राजेश मिश्रा ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर के लोक संगीत महोत्सव का आयोजन पहली बार जिले में शहर व गांव में हुआ है। इस आयोजन से जिले की लोक संगीत को नया आयाम मिलेगा। देश की सबसे छोटी लोक गायिका हम सबकी लाडली बेटी मान्या पाण्डेय आज सीधी की पहचान बन गई हैं। उन्हीं के प्रयासों से आज सीधी में देश के 22 प्रदेशों के लोक कलाकार यहां पहुंचे हैं और जिले के लोगों को देश के अलग-अलग प्रदेशों की लोकगीतों को सुनने और समझने का अवसर प्राप्त हुआ है। ऐसे आयोजनों से जिले के लोक कलाकारों को बहुत कुछ सीखने का अवसर मिलता है। उन्होने जिले के मीडियाकर्मियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इसी तरह मीडिया समाज को आईना दिखाने का काम करती रहे और विलुप्त हो रही लोक कला एवं लोक संगीत को आगे बढ़ाती रहे।

परसिली, चंदरेह का कलाकारों ने किया भ्रमण

राष्ट्रीय लोक संगीत महोत्सव में शामिल होने आए देश के 22 प्रदेशों के लोक कलाकार मान्या पाण्डेय मध्य प्रदेश, किशोरी तन्वी लोक गायिका दिल्ली, बैष्णवी निम्बुलकर नागपुर महाराष्ट्र, बाल कलाकार श्रृष्टि राय रांची झारखंड, बाल कलाकार अंशिका सिंह वाराणसी उत्तर प्रदेश, बाल कलाकार प्रगति सिंह महाराष्ट्र, बाल कलाकार अंजली कुमारी गया बिहार, बाल कलाकार अनन्या पाण्डेय पटना बिहार, छोटू राजा लखनऊ उत्तर प्रदेश, शालिनी त्रिपाठी लोक गायिका छत्तीसगढ़, सुरभि सिंह लोक गायिका राजस्थान, बाल कलाकार रितिका पाण्डेय लखिसराय बिहार, नवीन नितेश पाण्डेय लोक गायक वाराणसी उत्तर प्रदेश, गिरिधर कुरवा लोक गायक कर्नाटक, सुभाष राय लोक गायक झारखंड, निरंजन कुमार लोक गायक झारखंड, वादक कपिल तिवारी, सत्यम तिवारी, रविन्द्र तिवारी, पवन शुक्ला, कर्णवीर सिंह तोमर, शिवम तिवारी, भरत किशोर तिवारी, शिब्बू तिवारी आदि ने जिले के पर्यटन स्थल परसिली एवं चंदरेश, शिकारगंज आदि स्थानों का भ्रमण किया। परसिली पहुंचने पर सभी कलाकारों का परसिली रिसार्ट के प्रबंधक राजेन्द्र द्विवेदी के द्वारा सभी कलाकारों का स्वागत किया गया। तत्पश्चात उन्हें भोज कराया गया। चंदरेह पहुंचने पर सभी कलाकारों का जनपद पंचायत रामुपर नैकिन के उपाध्यक्ष ऋषिराज मिश्रा, कृषि स्थाई समिति जनपद पंचायत रामपुर नैकिन की सभापति श्रीमती सीमा पाण्डेय, संचार सकर्म समिति जनपद रामपुर नैकिन के सभापति अरुण शेखर त्रिपाठी, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के महामंत्री आशुतोष शुक्ला ने पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया।

यह समाचार पढिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Live TV