मध्य प्रदेश

अधिकारी निर्धारित समय पर कार्यालय में उपस्थित हो कर दायित्वो का करे निर्वहन: कलेक्टर

 

काल चिंतन कार्यालय
वैढ़न,सिंगरौली। आम जनता की समस्याओं को सुनना, उनका निराकरण करना तथा किसी भी समस्यां की जानकारी मिलने पर स्वयं प्रयास करके उसका हल निकालना सभी अधिकारियों का नैतिक दायित्व है। जिले में पदस्थ सभी शासकीय सेवक समय पर कार्यालय में उपस्थित होकर जन सेवा का लक्ष्य लेकर आम जनता की समस्याओ का निराकरण करे। ताकि शासन द्वारा संचालित योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन हो सके तथा पात्र हितग्राहियो को उनकी पात्रता अनुसार शासन की योजनाओ का लाभ मिले उन्हें लाभ लेने के लिए कार्यालयों के चक्कर नही काटने पड़े। इस सोच के साथ काम करनें की जरूरत हैं। उक्त आशय के निर्देश कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित सप्ताहिक समय सीमा बैठक के दौरान कलेक्टर श्री अरूण कुमार परमार के द्वारा बैठक में उपस्थित अधिकारियो को दिया गया।

बैठक के दौरान कलेक्टर के द्वारा सीएम हेल्प लाईन में लंबित शिकायतो की विभागवार समीक्षा करने के पश्चात कहा गया कि अभी कई विभागो के द्वारा सीएम हेल्प लाईन मे दर्ज शिकायतो का संतोष जनक निराकण नही किया जा रहा जो खेदजनक है। उन्होने निर्देश दिया कि संबंधित विभागीय अधिकारी रूचि लेकर शिकायतो का निराकरण कराये ताकि आने वाले माह मे जिले के रैकिंग प्रभावित न हो। उन्होने विद्युत विभाग की समीक्षा करते हुये बैठक में उपस्थित अधिकारी को इस आशय के निर्देश दिये कि अधिक विद्युत बिल के संबंध में आने वाली शिकायतो का तत्परता के साथ निराकरण करने की कार्यवाही करे। बैठक मे आयुष्मान कार्ड बनाये जाने के प्रगति की समीक्षा करते हुये निर्देश दिया कि गया कैम्प आयोजित कर पात्र हितग्राहियो को आयुष्मान कार्ड बनाये जाने की कार्यवाही करे जनपद पंचायतो के मुख्य कार्यपालन अधिकारी नगर निगम आयुक्त इस कार्य पर विशेष निगरानी रखे ताकि निर्धारित लक्ष्य की पूर्ति की जा सके।

कलेक्टर ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि एवं मुख्यमंत्री किसान कल्याण निधि की समीक्षा करते हुये निर्देश दिये कि योजना के लाभ से बंचित किसानो का आवेदन कर योजनाओ के लाभ लाभान्वित कराया जाना सुनिश्चित करे। कलेक्टर ने धान खरीदी केन्द्रो की समीक्षा करते हुये निर्देश दिये कि निर्धारित समय सीमा के पूर्व सभी केन्द्रो में व्यवस्थाऐ सुचारू रूप से किया जाना सुनिश्चित करे ताकि किसानो को किसी भी प्रकार की कठिनाई न होने पाये। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान में प्राप्त आवेदन के निराकरण की समीक्षा करते हुये निर्देश दिया गया कि कोई आवेदन निराकरण हेतु लंबित न रहे। बैठक के दौरान अपर कलेक्टर डी.पी बर्मन, एसडीएम ऋषि पवार, बी.पी पाण्डेय, संयुक्त कलेक्टर राजेश शुक्ला, डीएसओ पी.सी चंन्द्रवंशी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एन.के जैन, उपसंचालक कृषि आशीष पाण्डेय, सहायक आयुक्त आदिवासी संजय खेडकर, रोजगार अधिकारी सीमा बर्मा, नगर निगम के उपायुक्त आर.पी बैस, एलडीएम नितिन पटेल, लोक सेवा प्रबंधक रमेश पटेल सहित जिलाधिकारी उपस्थित रहे।

यह समाचार पढिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Live TV