मध्य प्रदेश

विश्व मृदा स्वास्थ्य दिवस पर किसानों ने जाने प्राकृतिक खेती के गुण

सिंगरौली। नीति आयोग के आकांक्षी जिला सिंगरौली में आईटीसी मिशन सुनहरा कल एवं कृषि विज्ञान केंद्र सिंगरौली के संयुक्त तत्वाधान में आज किसानों को विश्व मृदा स्वास्थ्य दिवस के उपलक्ष में प्राकृतिक खेती (जीरो बजट नेचुरल फार्मिंग) के विषय में बताया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता माननीय क्षेत्रीय विधायक महोदय जी द्वारा की गई। कार्यक्रम में वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डॉ. जय सिंह द्वारा किसानों को प्राकृतिक खेती के विषय में विस्तार पूर्वक बताया गया। वैज्ञानिक महोदय द्वारा प्राकृतिक खेती से होने वाले लाभ एवं रासायनिक उर्वरकों से होने वाले दुष्प्रभाव के विषय में बताया गया। डॉ. अखिलेश चौबे वैज्ञानिक महोदय द्वारा प्राकृतिक खेती के चार स्तंभ बीजामृत, जीवामृत, मल्चिंग,वापसा आदि विषयों पर विस्तार से बताया गया। कार्यक्रम के अध्यक्ष माननीय क्षेत्रीय विधायक महोदय जी द्वारा किसानों को जैविक खेती की ओर कदम बढ़ाने एवं मृदा स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए खेती करने का आग्रह किया गया। कार्यक्रम के उपरांत कृषि विज्ञान केंद्र प्रायोगिक प्रक्षेत्र में जैविक तकनीक से की जा रही टमाटर , गोभी, बैगन एवं विभिन्न प्रकार की फसलों का किसानों के द्वारा अवलोकन किया गया।

कार्यक्रम में आईटीसी मिशन सुनहरा कल के कृषि विशेषज्ञ मनीष कुमार मौर्य एवं विकास भनारे, वीआरपी लल्लू प्रसाद शाह, रामअवतार शाह, रामप्रताप शाहवाल उपस्थित रहे।

यह समाचार पढिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Live TV