मध्य प्रदेश

बाजार बैठकी को लेकर बनी असमंजस की स्थिति: अखिलेश सिंह

सिंगरौली। नगर पालिक निगम सिंगरौली में बाजार बैठकी को लेकर असमंजस की स्थिति निर्मित हो गई है। इस संंबंध में मध्य प्रदेश इंटक कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष व पार्षद नगर पालिक निगम सिंगरौली अखिलेश सिंह ने कहा कि बाजार बैठकी समाप्त करने का एमआईसी ने पहल किया लेकिन यह मुद्दा नीतिगत मुद्दा है नीतिगत मुद्दा परिषद में पास होना आवश्यक होता है जब तक परिषद में यह मंजूर नहीं होगा तब तक बैठकी वसूली बंद नहीं होगी।

उन्होने कहा कि भारतीय जनता पार्टी अपनी स्थिति को स्पष्ट नहीं कर पा रही हैं। जब जनता के बीच में जाती है तब कहती है कि हम बैठकी वसूली बंद करने के पक्ष में है जब परिषद के प्रस्ताव में रखकर इसको पास कराने की बारी आई तब भारतीय जनता पार्टी पूरी ताकत प्रशासन पर लगाकर प्रशासन को मोहरा बनाकर इस पर चर्चा करने से भाग रही है। इस मुद्दे को परिषद के एजेंडे में ना शामिल कराने के लिए सिंगरौली से भोपाल तक पूरी जोर आजमाइश लगाने में पड़ी हुई है। नगर पालिक निगम के अधिकारी असमंजस की स्थिति में भारतीय जनता पार्टी की कठपुतली बनकर इस एजेंडे को परिषद की बैठक में रखने से कतरा रहे हैं ।

श्री सिंह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के सभी पार्षद इस मुद्दे पर एकजुट है जनता को अधिक से अधिक जहां-जहां लाभ मिल सके उन सभी मुद्दे पर एक हैं। कांग्रेस पार्टी चाहती है बाजार वसूली का मुद्दा परिषद में लाया जाए एजेंडा में शामिल किया जाए इस पर चर्चा हो और जनता को यह पता चले कौन सी पार्टी कौन से पार्षद इस मुद्दे में अपने क्या राय देते हैं। उन्होने कहा कि कांग्रेस पार्टी महापौर महोदया से माँग करती है कि परिषद के एजेंडे में बाजार वैठकी वसूली जैसे गंभीर मुद्दे को लाया जाए अगर नहीं लाया जाता है तो मैं मानता हूं कि भारतीय जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी दोनों ही मिलकर के जनता को गुमराह कर रहे हैं ।

यह समाचार पढिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Live TV