मध्य प्रदेश

 विकासखंड व संकुल स्तरीय संस्था प्रमुखों का एक दिवसीय प्रशिक्षण विकासखंड स्तर पर आयोजित किया गया

सिंगरौली/देवसर:-शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में 15 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के वयस्क व्यक्ति जो औपचारिक शिक्षा प्राप्त नहीं कर पाए उनकी निरक्षरता उन्मूलन हेतु राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के प्रावधानों के अनुसार 2027 तक के लिए नवभारत साक्षरता कार्यक्रम चलाया जा रहा है। कार्यक्रम के क्रियान्वयन हेतु राज्य शिक्षा केंद्र भोपाल व टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज इंदौर के मार्गदर्शन में जिला एवं विकास खंड स्तर के सह समन्वयक साक्षरता का टीसीएस इंदौर में गत माह दिसंबर में कार्यक्रम के संचालन, पठन-पाठन ,मानिटरिंग एवं मूल्यांकन पर एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया। इसी तारतम्य में 30 दिसंबर 22 को संकुल प्राचार्य व संकुल सहसमन्वयक साक्षरता को विकासखंड सहसमन्वयक साक्षरता राजेश पाण्डेय द्वारा प्रशिक्षण दिया गया ।

प्रधानाध्यापक व संकुल स्तर के प्रशिक्षक को गतिविधि कैलेंडर अनुसार 3 जनवरी को संकुल केंद्र कन्या हायर सेकेंडरी स्कूल देवसर व उत्कृष्ट विद्यालय देवसर में विकासखंड सहसमन्वयक व संकुल सहसमन्वयक साक्षरता, जन शिक्षक द्वारा प्रशिक्षण प्रदान किया गया। विकासखंड सहसमन्वयक साक्षरता राजेश पाण्डेय ने नव भारत साक्षरता कार्यक्रम व प्रौढ़ शिक्षा एप्प के संबंध में विस्तृत प्रशिक्षण दिया वही साक्षरता कक्षाओं का संचालन एवं मानिटरिंग पर प्रकाश डाला ।

प्रशिक्षण में विकास खंड शिक्षा अधिकारी एस.डी.सिंह प्राचार्य यू. एन.सिंह प्र. प्राचार्य एस.डी. गुप्ता विकासखंड स्त्रोत समन्वयक धनराज सिंह विकासखंड सहसमन्वयक साक्षरता राजेश पाण्डेय बीएसी उजागीर लाल चतुर्वेदी ,प्रमोद शुक्ला जन शिक्षक श्रीमती विभा पाठक, घनश्याम शुक्ला ,लक्ष्मी कांत पांडे, वीरेंद्र सोनी संकुल सहसमन्वयक के.के. पाठक ,संजय सोनी, हरे राम तिवारी एमआईएस राजेश कुशवाहा व समस्त प्रधानाध्यापक मौजूद रहे.

यह समाचार पढिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Live TV