मध्य प्रदेश

आदिवासी पर गोली चलाने का मुख्य आरोपी विवेकानंद वैश्य धराया

महिला मित्र के घर चटका बस्ती से आरोपी हुआ गिरफ्तार, आरोपी पर था दस हजार का इनाम

वैढ़न,सिंगरौली। सिंगरौली के मोरवा में आदिवासी युवक पर गोली चलाने वाला विधायक पुत्र मुख्य आरोपित विवेकानंद वैश्य को कड़ी मशक्कत के बाद मोरवा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है। मोरवा पुलिस ने आरोपित को उसके महिला मित्र के घर चटका बस्ती से गिरफ्तार किया है। एसपी मोहम्मद यूसुफ कुरैशी ने मुख्य आरोपी भाजपा विधायक राम लल्लू वैश्य के पुत्र पर 10 हजार का इनाम भी घोषित किया था। गोलीकांड के बाद से ही आरोपित लगातार पुलिस को चकमा दे रहा था लेकिन आज पुलिस ने अपने मुखबिरों की सूचना के आधार पर दविस देकर गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस आरोपी की कर रही थी सरगर्मी से तलाश

बता दें कि गोली चलाने के बाद से ही यह मामला प्रदेश भर में सुर्खियों में था और पुलिस भी आरोपित के बारे में लगातार छानबीन कर रही थी। हालांकि इस मामले में विधायक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस घटना पर दुख व्यक्त करते हुए अपने आरोपित बेटे से पल्ला झाड़ लिया था। उन्होंने कहा था कि बेटा बालिग हो गया है और वह लंबे समय से हम से अलग रह रहा था। इस मामले में एसपी के नेतृत्व में आरोपित को गिरफ्तार करने के लिए कई अलग अलग टीमें लगी थीं। वहीं इस मामले में पुलिस ने दो आरोपितों को पहले ही गिरफ्तार कर लिया है। जबकि फरार आरोपित विवेकानंद को गिरफ्तार कर लिया गया है।

गोलीकांड के दूसरे आरोपित को पुलिस ने उप्र बार्डर के पास से पकड़ा था। पुलिस को साइबर सेल के जरिए जानकारी लगीं कि सिंगरौली गोलीकांड का मुख्य दूसरा आरोपित दीपक उर्फ त्रिभुवन पनिका मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश के खनहना बॉर्डर के आसपास छिपा हुआ है। पुलिस आरोपित का पीछा करते हुए मौके पर पहुंची। लेकिन अब तक आरोपित को पुलिस की आने की खबर लगी तो वह मौके से पुलिस को चकमा देकर भागने में सफल हो गया हालांकि आरोपित भाग रहा था पुलिस भी उसका पीछा कर रही थी। खुद को बचाने के लिए आरोपित मोरवा रेलवे स्टेशन के पीछे झाड़ियों में जाकर छिप गया। पुलिस ने चारों तरफ से घेर कर आरोपित को गिरफ्तार किया था।

मामुली विवाद में आरोपी ने आदिवासी युवक पर चला दी थी गोली
पिछले सप्ताह भाजपा विधायक पुत्र विवेक वैश्य ने मोरवा के बूढी माई मंदिर के पास मामूली बातचीत के दौरान गोली चला दी थी। जहां सूर्या खैरवार पर विवेक की पिस्टल से निकली गोली दाहिने हाथ पर लग गई थी। जिससे वह घायल हो गया। वहीं अब घायल की हालत ठीक है। उसके बाद से घटना को अंजाम देने के बाद विवेकानंद फरार चल रहा था जिस पर पुलिस ने आरोपी को पकड़ने के लिए ₹10000 का इनाम घोषित कर दिया था।

यह समाचार पढिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Live TV