राष्ट्रीय

सौतेली माँ से तंग आकर 18 वर्षीय लड़की अपने सौतेली माँ के 2 बच्चों के साथ पहाड़ी से कूदकर की आत्महत्या

सोनभद्र

सोनभद्र में मांची थाना क्षेत्र के सोमा गांव में भैंसहवा पहाड़ी के तलहटी में संदिग्ध परिस्थिति में पानी के अंदर दो बहन व एक भाई सहित तीन बच्चों के शव मिलने के बाद हड़कम्प मच गया । पुलिस ने तीनों शवों को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस सम्बंध में पुलिस ने बताया कि मृतक युवती कृष्णा अपनी सौतेली माँ की प्रताड़ना से आजिज आकर अपनी सौतेली में के 2 बच्चों के साथ पहाड़ी से कूदकर आत्महत्या कर ली।

जानकारी के अनुसार मांची थाना क्षेत्र के भैंसहवा पहाड़ी में एक 18 वर्षीय बालिग सहित तीन बच्चों ने कूदकर आत्महत्या कर ली। स्थानीय सोमा गांव के लोगो की माने तो तीनों बच्चे शौतेली से प्रताड़ित होकर 500 फिर ऊपर से कूदकर तीनो बच्चों ने आत्महत्या कर ली है। 12 तारीख के घटना के बाद पुलिस को 14 तारीख को परिजनों द्वारा तहरीर मिली । घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक यशवीर सिंह , एएसपी विजय शंकर मिश्रा सहित कई थानों की फोर्स मौके पर पहुँचकर तीनो की तलाश शुरू कर दिया। वही तीनो के शव 15 तारीख को पुलिस ने बरामद करते हुए पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया।

पुलिस ने बताया कि बुधवार की शाम 5:00 बजे शहजादी पत्नी अमरेश, निवासी सोमा ने थाना मांची पर सूचना दी कि 12 सितम्बर की दोपहर से उसकी बेटी कृष्णा उम्र लगभग 18 वर्ष नाराज होकर चंदन 4 वर्ष व पुत्री उजाला ढाई वर्ष को साथ लेकर चली गई है । जिसके बाद पुलिस द्वारा थाना मांची पर मुकदमा दर्द करते हुए धारा 363 आईपीसी पंजीकृत किया गया । पुलिस ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि तीनों बच्चों के खोजबीन के दौरान ग्राम वालों से पूछताछ पर बताया कि शहजादी कृष्णा की सौतेली मां थी, जिससे कृष्णा का अक्सर विवाद होता था । इसी बात से नाराज होकर कृष्णा दोनों बच्चों को लेकर चली गई और भैंसहवा पहाड़ी से नीचे कूदकर दोनों बच्चों के साथ आत्महत्या कर ली है । गुरुवार की देर शाम पुलिस ने भैंसहवा पहाड़ी के तलहटी से बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया ।

वही एएसपी विजय शंकर मिश्रा ने बताया कि अमरेश धांगर ने तीन शादी की थी, पहली शादी से चार बच्चे थे। जिसमें दो लड़की और दो लड़के है। मृतक लड़की कृष्णा 16 वर्ष अपनी सौतेली माँ की प्रताड़ना से आजिज आकर सौतेली माँ के दो बच्चो चन्दन 4 वर्ष और उजाला ढाई वर्ष को लेकर 12 तारीख से लापता हो गयी। सौतेली मां शहजादी ने 14 सितंबर को पुलिस में बच्चो के लापता होने की शिकायत दर्ज कराया तो पुलिस ने जब छानबीन किया तो ग्रामीणों से जानकारी मिली कि भैंसहवा पहाड़ी पर कपड़ा मिला है। जब पुलिस ने मौके पर पहुचकर जांच किया तो हजारों फीट गहरी खाई में तीन शव मिला। वही घटना स्थल पर एसपी डॉ0 यशवीर सिंह की मौजूदगी में सर्च ऑपरेशन चलाया जिसके बाद देर रात में तीनो के शव बरामद करते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। यह घटना पूरी तरह पारिवारिक विवाद है। घटना के समय मृतक बच्चो का पिता अमरेश धांगर मौजूद नही था वह आंवला में काम करता है।

यह समाचार पढिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Live TV