राष्ट्रीय

मासूम की गवाही ने हत्यारे बाप को पहुंचाया जेल, कोर्ट ने सुनाई 10 साल कैद की सजा

 

झांसी. उत्तर प्रदेश के झांसी में 7 साल के एक मासूम बच्चे की गवाही ने उसके हत्यारे पिता को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचा दिया. बच्चे ने अपनी मां की मौत का जिम्मेदार अपने पिता को बताया. जिसके बाद बच्चे की गवाही को विश्वसनीय मानते हुए कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया. बच्चे ने कोर्ट में बताया कि उसके पिता ने उसकी मां को बेरहमी से पीटा था. उस समय मां के मुंह और नाक से खून निकल रहा था. अपर सत्र न्यायाधीश के कोर्ट ने बच्चे के पिता को 10 साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई है.

अभियोजन पक्ष की तरफ से पेश हुए फौजदारी के जिला शासकीय अधिवक्ता देवेंद्र सिंह पांचाल ने बताया कि करगुवां के रहनेवाले राकेश कुशवाहा की पत्नी पूनम अपनी ससुराल में 6 फरवरी 2020 को मृत पाई गई थीं. दोनों का विवाह 1998 में हुआ था. पूनम के परिवार ने राकेश पर उसके साथ मारपीट करने का आरोप लगाया था. पूनम की मां शंकुतला देवी की शिकायत पर पुलिस ने राकेश कुशवाहा के खिलाफ मुकदमा लिखकर जांच शुरू कर दी थी. जांच के बाद पुलिस ने राकेश के खिलाफ चार्जशीट फाइल कर दी. गवाहों में सिर्फ राकेश कुशवाहा का बेटा ही चश्मदीद था.

कोर्ट ने बच्चे को गवाही के लिए बुलाया. इस समय बच्चे कि उम्र 7 वर्ष है. नाबालिग बेटे ने कोर्ट में बताया कि पापा मम्मी को मारा करते थे. पापा ने ही मम्मी को मारा है. मम्मी के मुंह से खून भी निकला था. मैं उस वक्त जाग रहा था और मैंने मम्मी की आवाज भी सुनी थी. वकीलों की जिरह के बावजूद बच्चे के बयान में कोई बदलाव नहीं आया. इसके बाद कोर्ट ने बच्चे की गवाही को विश्वसनीय मानते हुए उसे एकमात्र साक्षी माना. कोर्ट ने हत्यारे पिता को 10 वर्ष सश्रम कारावास की सजा सुनाई और पचास हजार रुपए का जुर्माना लगाया.
Source

यह समाचार पढिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Live TV