राष्ट्रीय

संत जोसेफ स्कूल के वार्षिकोत्सव में रंगारंग कार्यक्रमों की प्रस्तुति

संत जोसेफ स्कूल के वार्षिकोत्सव में रंगारंग कार्यक्रमों की प्रस्तुति

संवाददाता यश राज गुप्ता
एनटीपीसी शक्तिनगर के आवासीय परिसर में स्थित संत जोसेफ स्कूल में हर्षोल्लास के साथ वार्षिकोत्सव मनाया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बसुराज गोस्वामी, कार्यकारी निदेशक, एसएसटीपीएस शक्तिनगर अध्यक्ष फादर लुइस मस्करेन्हस, प्रशासक इलाहाबाद डायसिस एवं गणमान्य अतिथिगण द्वारा दीपप्रज्वलन कर समारोह का शुभारंभ किया गया। विद्यालय के वर्तमान सत्र के वार्षिकोत्सव को ‘वार’ विषयवस्तु द्वारा रेखांकित किया गया, जिसके अंतर्गत विभिन्न शीर्षकों के माध्यम से नाटक, नृत्य, मीम्स, ऐतिहासिक घटनाक्रम एवं नृत्यनाटिकाओं शानदार प्रस्तुति से छात्रों ने जनमानस के अंतःकरण को झंकृत करने का प्रयास किया। नृत्य शिक्षिका के निर्देशन में छात्राओं एंजला, संस्कृति, कृतिका, अनुष्का, सुप्रिया, एंजलीना, क्रिसलिन. ऋचा, तृषा, तरुषी, अक्षिता, स्नेहा, अदिति, गगनदीप, अनन्या व जिज्ञासा ने प्रार्थना नृत्य द्वारा अतिथिगण का अभिनंदन करते हुए कार्यक्रम को गति प्रदान की। एलकेजी के छात्रों आरिका, आरिफ, जीविका, नीलेश, प्रणिका, अनामिका, आर्वी, बिअंका, वेद, ग्रेसी, आराध्या एवं अन्य ने प्रकृति प्रेम को दर्शाते हुए ‘प्रकृति और हम’ विषय पर नृत्य-नाटिका का मंचन कर उपस्थित अभिभावकों को तालियाँ बजाने को विवश कर दिया। एक ओर जहाँ यूकेजी के छात्रों अनुज, एलिशा, मैनुएल, मानशी, अलिस, आन्या आदि ने स्वास्थ्य ही सर्वोत्तम धन विषय पर प्रस्तुति देकर सभी का ध्यान खेलकूद, स्वच्छता एवं समुचित जीवनशैली की ओर उन्मुख किया तो वहीं दूसरी तरफ पहली कक्षा के विद्यार्थियों अनुष्का, अमायरा, अर्चित, आर्ना, अंकित, जसनीत, कनिका, अराध्या, स्वास्तिक, कृष्णा, अविचल. अविका, आशीष, नैतिक इत्यादि ने आधुनिक खान-पान एवं आदतें तथा स्वास्थ्य विषय को नृत्य व नाटक के माध्यम से उकेरने का प्रयास किया, जिसे उपस्थित सभा द्वारा सराहा गया। ‘बच्चे व डिजिटल दुनिया’ विषय को केंद्रित कर कक्षा दो के विद्यार्थियों साक्षी, यदुराज, अर्तिका, कार्तिक, अमाया, आकांक्षा, स्वप्निल, तेजस, श्रेया आदि ने डिजिटल दुनिया के लाभ व हानि को रेखांकित करने का प्रयास किया। कक्षा तीन के छात्रों श्रेयांश, अनीशा, सृष्टि, चंद्रकांत, काश्वी, सौभाग्य, सम्मृद्धि, अंकुर दिपाली इत्यादि ने नारी सशक्तिकरण को अपने नाटक का विषय केंद्रित कर नारी सम्मान का आह्वान किया तो चौथी कक्षा के छात्रों आरिन, अभिनव, अर्नेश, अभिज्ञान, तृषा इत्यादि ने ‘फेक न्यूज’ विषयिक नाट्यमंचन द्वारा समाज को सचेत करने का सार्थक प्रयास किया। कक्षा पाँच के छात्रों ने मूल्य-निर्माण के आवश्यक तत्त्वों पर प्रकाश डालते हुए नाटक दिखलाया। कक्षा छः के विद्यार्थियों ओजस, दीपक, यशराज, आप्तिका, शिवि, मनस्वी, अमूल्या, अनकना व टीम ने जहाँ ‘अति सर्वत्र वर्जयेत’ शीर्षक के माध्यम से यह दिखाने का प्रयास किया कि किसी भी चीज की अधिकता उचित नहीं अतः हमें सदैव उचित रूप में ही उपभोग को महत्व देना चाहिए तो वहीं सातवीं के छात्रों रुद्र, अंशिक, विवेक, सुमित, दिव्यांश, आरव, नमन, केविन, सिम्सन, शुभम, आदित्य, अमन, तन्मय द्वारा माइम्स की प्रस्तुति देकर भ्रष्टाचार-मुक्त भारत का संदेश दिया गया। ‘बुराइयाँ अच्छी होती हैं’ व्यंग्य की प्रस्तुति कक्षा आठ के छात्रों श्रेया, सुहानी, आयुष, लावित्रा, सौम्या, आलिया, जैनब इत्यादि द्वारा दी गई तो नवीं कक्षा के छात्रों श्रेया, अदिति, राजनंदिनी, रुद्रांशी, प्रकृति, जागृति, श्रवण, निखिल, मान्या व अन्य द्वारा मानसिक स्वास्थ्य को मजबूती प्रदान करने के लिए नृत्य-नाटिका का मंचन किया गया जिसके द्वारा छात्रों को संबल प्रदान करने का प्रयत्न किया गया।
वार्षिकोत्सव के मुख्य अतिथि बसुराज गोस्वामी, कार्यकारी निदेशक, एनटीपीसी शक्तिनगर ने अपने सार्गर्भित उद्बोधन में विद्यार्थियों की मनोरंजक व ज्ञानवर्धक प्रस्तुति की सराहना करते हुए कहा कि संत जोसेफ स्कूल न केवल शिक्षा के क्षेत्र में अपितु ज्ञान के साथ ही साथ संस्कार, संस्कृतिक प्रस्तुति, खेलकूद व समस्त गतिविधियों में अपनी योग्यता को लगातार ४५ वर्षों से प्रमाणित करता आ रहा है।
समारोह की अध्यक्षता कर रहे फादर लुइस मस्करेन्हस, प्रशासक इलाहाबाद डायसिस ने अपने शुभाशीर्वचन में विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि आधुनिक युग प्रतियोगिता का है और संत जोसेफ के बच्चे प्रतिवर्ष नए प्रतिमान गढ़ रहे हैं। उच्च स्तरीय मानकों को प्रतिष्ठापित करने हेतु शिक्षक व विद्यार्थी बधाई के पात्र हैं। यह विद्यालय एक संपूर्ण विद्यालय की परिभाषा को जीवंत रूप प्रदान करता है। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि, अध्यक्ष, विशिष्ट अतिथि द्वारा मेधावी छात्रों जिन्होंने १०वीं व १२वीं की बोर्ड परीक्षा में विद्यालय स्तर पर वरीयता सूची में प्रथम तीन स्थान पर रहे उनको प्रमाण-पत्र व कैश से पुरस्कृत किया गया साथ ही खेलकूद के क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर पर चयनित विद्यार्थियों को भी सम्मानित किया गया। विद्यालय में २५ वर्षों की अनवरत सेवा प्रदान करने वाले शिक्षणेतर कर्मचारी पूरन हीरेंज व साइमन पैट्रिक को उनकी उत्कृष्ट सेवा के लिए प्रतीक चिह्न भेंट किया गया।
कार्यक्रम के अंतिम सोपान के रूप में कक्षा ११ के छात्रों साहिल, सृजन, हिमांशु, अद्रिजा, मालविका, क्षितिज, अनिकेत, प्रियांशू, अंकिता, पलक, सिमोन, प्रशांत, अभिषेक, शुभम, आर्यन, नित्या, कृष आदि ने अशोक महान के व्यक्तित्व को उजागर करते हुए नृत्य व नाट्यमंचन के माध्यम से समाज को अहिंसा व सच्चाई के मार्ग से अभिप्रेरित होकर निष्ठापूर्वक जीवनयापन का संदेश प्रसारित किया गया। स्कूल कैप्टन दिव्या कुमारी व अमन सिंह ने विदलय की वार्षिक प्रगति आख्या पर प्रकाश डाला तो वायस कैप्टन मान्या व अमन ने सभी आगंतुक के प्रति अपनी कृतज्ञता ज्ञापित की। कार्यक्रम का संचालन शिक्षक बिजू वर्गीस के नेतृत्व में बुशरा, सौम्या, क्षितिज व आर्यन ने तो तकनीकी सहयोग शिक्षक मृत्युंजय के नेतृत्व में ११वीं के छात्रों ने एवं निर्देशन शिक्षक टाइट्स क्रास्टा ने किया। समारोह में समस्त शिक्षकगण, शिक्षणेतर कर्मचारी, छात्र व अभिभावकगण उपस्थित रहे एवं समापन राष्ट्रगान के साथ हुआ।

यह समाचार पढिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Live TV