राष्ट्रीय

स्वतंत्रता दिवस से पहले दिल्ली पर हमला कर सकते हैं आतंकी, उदयपुर कांड का भी जिक्र

 

नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली पर एक बार फिर आतंक का साया मंडराने लगा है. इंटेलिजेंस ब्यूरो ने 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस से पहले दिल्ली में लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद और अन्य कट्टरपंथी समूहों की ओर से आतंकी हमले के लिए अलर्ट जारी किया है. आईबी की रिपोर्ट में कहा गया है कि दिल्ली को लश्कर, जैश और अन्य कट्टरपंथी समूहों से खतरा है. स्वतंत्रता दिवस से पहले लाल किले में एंट्री के लिए सख्त नियम लागू करने का निर्देश भी दिया गया है. आईबी ने अपनी इस रिपोर्ट में जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे पर हमले और उदयपुर और अमरावती जैसी घटनाओं का उल्लेख भी किया है.

हाल ही में दिल्ली पुलिस ने भी स्वतंत्रता दिवस पर ट्रैफिक को लेकर एडवाइजरी जारी की थी। उदयपुर और अमरावती की घटनाओं को देखते हुए एजेंरियों ने पुलिस को कट्टरपंथी समूहों और भीड़ वाले इलाकों में उनकी गतिविधियों को लेकर सतर्क रहने के लिए कहा है। रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान की ISI जैश और लश्कर के आतंकियों को मदद मुहैया कराने के जरिए आतंकी घटनाओं को भड़का रही है। खबर है कि आतंकियों को बड़े नेताओं और अहम जगहों को निशाना बनाने के निर्देश दिए गए हैं।

भारतीय खुफिया एजेंसी से मिले इनपुट के बाद दिल्ली ट्रैफिक पुलिस को भी अलर्ट कर दिया गया है. अमूमन ट्रैफिक पुलिस की नजर यातायात प्रबंधन पर ही होती है.चूंकि आईबी का इनपुट नजरअंदाज नहीं किया जा सकता. इसलिए थाने-चौकी की पुलिस, बीट अफसरों के अलावा ट्रैफिक पुलिस को भी अलर्ट रहने को कहा गया है. ट्रैफिक पुलिस को विशेषकर यह हिदायत दी गई है कि वह, सड़क किनारे लावारिस या लंबे समय से खड़े वाहनों पर ध्यान रखेगी. ट्रैफिक पुलिस के साथ-साथ सड़क किनारे ( अधिकृत पार्किंग) खड़े किसी भी संदिग्ध वाहन के बारे में तुरंत पुलिस को सूचित करने के लिए पार्किंग वालों को भी बोला गया है. क्योंकि उनकी नजर में जरुर रहता है कि उनकी पार्किंग के आसपास कोई वाहन कब से लावारिस हालत में खड़ा है?
Source : palpalindia

यह समाचार पढिए

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Live TV